उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला,31 मार्च को राज्य में फंसे लोग जा सकेंगे अपने घर

avatar

Reported by Kanchan Verma

On 28 Mar 2020
उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला,31 मार्च को राज्य में फंसे लोग जा सकेंगे अपने घर

कोरोना वायरस की वजह से पूरे देशभर में लॉक डाउन कर दिया कर दिया गया जिसकी वजह से कई लोग अपने घरों से दूर शहरों में फंसे रह गए, लॉक डाउन की स्थिति में कोई मजबूरी के चलते अगर अपने घर जाने की सोचता भी तो पुलिस की मार का डर उल्टा सताने लगता,इस परेशानी को देखते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का लॉक डाउन पर बड़ा बयान आया है, उन्होंने कहा कि मंगलवार यानी 31 मार्च को परिवहन व्यवस्था सुचारू हो जाएंगी, ताकि उत्तराखंड में फंसे लोग अपने अपने घर जा सकें। राज्य के अंदर जो लोग एक जिले से दूसरे जिले में जाना चाहते हैं, वे लोग 31 मार्च को सुबह 7 बजे से सांय 8 बजे तक जा सकेंगे। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने यह जानकारी देते हुए बताया कि केवल मंगलवार 31 मार्च के लिए ही यह अनुमति होगी। एक दिन का यह विंडो इसलिए दिया जा रहा है क्योंकि जगह-जगह से ऐसी बातें आ रही थी कि बहुत से लोग अपने काम से आए हुए थे और लाॅकडाऊन के कारण अपने घर से बाहर फंसे हैं। बसों व टैक्सियों को सेनेटाइज करवाया जाना होगा, इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन  होगा । मुख्यमंत्री ने ये भी कहा है कि सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को खोलने की व्यवस्था का अच्छा रेस्पोंस मिला है। इससे लोगों में घबराहट खत्म हुई है, भीङ भी नही हो रही। लोग भी अब समझने लगे हैं। इसलिए इसी व्यवस्था को जारी रखा जाएगा। दिल्ली में जो उत्तराखंडवासी फंस गए हैं उनके लिए उत्तराखंड सदन खोल  दिया गया है। वहां उनके भोजन, मेडिकल आदि पूरी व्यवस्था है। इसी प्रकार मुम्बई में भी उत्तराखंड भवन को लाॅकडाऊन में फंसे उत्तराखंड के लोगों के लिए खोल दिया  गया है । मुख्यमंत्री ने कहा कि हम दो तीन दिन में 500 चिकित्सकों की भर्ती करने जा रहे हैं। इससे हमारे यहाँ चिकित्सक पर्याप्त संख्या में हो जाएंगे।मुख्यमंत्री ने ये भी बताया कि पेंशनरों के लिए जीवन प्रमाण पत्र और वाहन चालकों के लिए ड्राइविंग लाइसेंस नवीनीकरण के लिए एक माह की छूट दी गई है, उत्तराखंड में फंसे कई बाहरी मजदूर और लोग अपने घर ना जाने की वजह से  कोरोना वायरस के डर के मुकाबले ज़्यादा परेशान हो रहे हैं ,कई लोग तो पैदल ही अपने गंतव्य तक जाने के किये आधी रात को ही निकल जा रहे थे, इस बड़ी समस्या के मद्देनजर उत्तराखंड सरकार ने 31 मार्च के लिए अहम फैसला लेते हुए आम जनता को बड़ी राहत दी है।







0 0