कोरोना खुलासा:मुंबई के डॉ की वायरल वीडियो में हुआ कोरोना के आंकड़ों का खुलासा जानिए क्या कहा इस डॉ ने

avatar

Reported by Awaaz Desk

On 1 Apr 2021
कोरोना खुलासा:मुंबई के डॉ की वायरल वीडियो में हुआ कोरोना के आंकड़ों का खुलासा जानिए क्या कहा इस डॉ ने

कोरोना वायरस संक्रमण के जो आंकड़े स्वास्थ्य विभाग जारी कर रहा है क्या वो आंकड़े सटीक है? ये सवाल पिछले साल से अब तक सोशल मीडिया में एक बड़ा मुद्दा बनकर सामने आया है।अभी हाल ही में मुंबई के एक डॉ की वीडियो वायरल हुई जिसमें वो कोरोना के आंकड़ों को लेकर एक खुलासा करते दिखाई दे रहे हैं। मुंम्बई के एक डॉ मेहुल भट्ट जो कि एक फिजिशियन है उन्होंने वायरल वीडियो में खुलासा किया है कि उनके पास जितने लोग भी बुखार की समस्या को लेकर आ रहे हैं उन्हें कोविड टेस्ट की सलाह दी गयी लेकिन उनमें से कुछ ही लोगो ने कोरोना की जांच करवाई और वो पॉजिटिव पाए गए,डॉ का कहना है जिन लोगो ने कोरोना की जांच नही करवाई और उनमें बुखार की शिकायत है वो लोग भी कोरोना पॉजिटिव हो सकते है जो कि खुलेआम आपके आसपास घूम रहे हैं।ये लोग अपने फैमिली डॉ से ही दवाई लिखवा कर घर पर इलाज कर रहे हैं और बुखार ठीक हो जाने पर बेख़ौफ़ घूम रहे है।इस हिसाब से जो आंकड़े सरकार जारी कर रही है वो पूर्ण रूप से सही है नही है क्योंकि टेस्टिंग करवाने में लोग ढीले पड़ रहे हैं।डॉ मेहुल का कहना है कि आपको अगले कुछ महीनों मास्क पहनना ज़रूरी है सोशल डिस्टनसिंग बनाना जरूरी है आपके आसपास 10 में 4 लोग कोरोना पॉजिटिव है ये मान कर चलिए और एहतियात रखिये।

आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक बार फिर केंद्र सरकार ने देश के सभी राज्‍यों के लिए चेतावनी जारी की है और कहा कि हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं, जिसे देखते हुए विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है। केंद्र सरकार ने ये चेतावनी ऐसे समय में दी है , जब कोरोना के सर्वाधिक ममाले देश के 10 जिलों में दर्ज किए गए हैं, जिनमें महाराष्‍ट्र के 8 जिले और राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली भी शामिल है।नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वीके पॉल ने मंगलवार को कहा, 'हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। यह चिंता का कारण है। किसी भी राज्‍य या देश के हिस्‍से को मामूली सी भी कोताही बरतने की जरूरत नहीं है।'उन्‍होंने कहा, 'ट्रेंड्स से पता चलता है कि वायरस अब भी बहुत सक्रिय है और बचाव के हमारे सारे प्रयास बेमानी साबित हो सकते हैं, अगर हम नहीं चेते। जब भी हम सोचते हैं कि हमने इसे काबू कर लिया है, यह फिर से वार करता है। यह चिंता की स्थिति है और इसे लेकर हम सभी को सचेत रहने की आवश्‍यकता है।' उन्‍होंने यह भी कहा कि देश इस वक्‍त गंभीर हालात से गुजर रहा है और स्‍वास्‍थ्‍य संकट की यह स्थिति पूरे दूश को लेकर है।

बढ़ते संक्रमण के बीच केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण ने देश के सभी जिलों, चाहे वहां संक्रमण के मामलों में वृद्धि हो या नही, को पत्र लिखकर मौजूदा हालात से निपटने के लिए जिला स्‍तरीय एक्‍शन प्‍लान बनाने को कहा है। इसमें कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए निर्धारित टाइमलाइन और जवाबदेही तय करने की बात भी शामिल है। केंद्र सरकार की ओर से राज्‍यों को RT-PCR टेस्‍ट बढ़ाने, हर पॉजिटिव केस पर 25-30 कॉन्‍टैक्‍ट्स का पता लगाने, आइसोलेशन और कंटेनमेंट जोन बढ़ाने पर भी जोर दिया गया है और 'टेस्‍ट, ट्रैक, ट्रीट' को अहम बताया गया है।


डॉ मेहुल हेम भट्ट का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें

Leave a Comment

Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 21 Apr 2021

न्यूजपेपरो में प्रकाशित ख़बरों का हवाला देते हुए कोर्ट ने कहा हर रोज बर्बाद हो रहे है 6 प्रतिशत टीके
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 11 Apr 2021

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सूरत और अहमदाबाद में अंतिम संस्कार के लिए घण्टो वेटिंग लाइन में लगना पड़ रहा
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 10 Apr 2021

अस्पताल नही कर पा रहा है तय कि बुजुर्ग की मौत एडवर्स इवेंट आफ्टर इम्यूनिजाईशेन या कुछ और