कोरोना पॉजिटिव को एक ही दिन में घर भेजने वाला पहला राज्य बना उत्तराखंड

avatar

Reported by Awaaz Desk

On 1 Jun 2020
कोरोना पॉजिटिव को एक ही दिन में घर भेजने वाला पहला राज्य बना उत्तराखंड

कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी कैबिनेट मंत्री को एक ही दिन में घर वापस भेजने वाला उत्तराखंड पहला राज्य बनने जा रहा है,जी हाँ ये सच है ! इसकी वजह है केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई नई गाइडलाइंस जिसके मुताबिक कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी अगर किसी भी प्रकार का कोई कोरोना लक्षण दिखाई नही देता है और आपके पास होम क्वारंटाइन होने के लिए पर्याप्त जगह है तो आप अपने घर जा सकते हैं।

नई गाइडलाइंस को बखूबी फॉलो करने वाले उत्तराखंड पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने भी एम्स से छुट्टी ले ली है।इसकी सूचना एम्स ऋषिकेश द्वारा जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में दी गयी है,जिसके अनुसार एम्स में भर्ती राज्य के पर्यटन मंत्री के परिवार के पांच सदस्यों को सोमवार शाम डिस्चार्ज कर दिया गया है। साथ ही उन्हें होम कोरंटाइन में रहने की सलाह दी गई है। बताया गया कि यह सभी सदस्य एसिम्टमेटिक (जिस व्यक्ति में रोग के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हों) थे। लिहाजा केंद्र सरकार की गाइड लाइन के आधार पर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।                                


एम्स संस्थान की ओर से सोमवार को जारी हेल्थ बुलेटिन में संकायाध्यक्ष (अस्पताल प्रशासन) प्रो. यूबी मिश्रा ने बताया कि बीते रविवार को सूबे के काबीना मंंत्री, उनकी पत्नी समेत सात पारिवारिक सदस्यों को कोविड संक्रमित पाए जाने पर एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया था। जहां सभी सदस्यों की विस्तृत जांच की गई।                                                                                                                                उन्होंने बताया कि परिवार के उक्त सदस्यों को सोमवार शाम डिस्चार्ज कर दिया गया है। साथ ही उन्हें होम कोरंटाइन में रहने की सलाह दी गई है। साथ ही कहा  कि यह सभी  सदस्य ए-​सिम्टमैटिक हैं,लिहाजा  ऐसे पेशेंट जिनमें कोविड के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइड लाइन के तहत होम कोरंटाइन में रखा जा सकता है। लिहाजा उनके व्यक्तिगत आग्रह पर उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया तथा होम कोरंटाइन में रहने की सलाह दी गई।

काबीना मंत्री के पारिवारिक जनों ने घर में कोरंटाइन में रहने की बेहतर व सुविधाजनक वातावरण की बात कही थी, लिहाजा उनके आग्रह पर सरकार की गाइड लाइन के तहत पांच लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।




0 0