उत्तराखंड- आज फिर से नैनीताल जिले में कोरोना के 55 मरीज मिले, आज प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या पहुँची 100, कुल आंकड़ा पहुँचा 97234   |   उत्तराखंड बिग ब्रेकिंग:कुमाऊं और गढ़वाल के बाद गैरसैंण उत्तराखंड का बनेगा तीसरा मण्डल सीएम ने की घोषणा   |   मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भराड़ीसैंण (गैरसैंण) में बजट पेश करने के दौरान कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं की   |   उत्तरप्रदेश ब्रेकिंग:सीएम योगी के नाम लिखा सुसाइड नोट और दरोगा ने मार ली खुद को सर्विस रिवॉल्वर से गोली मौके पर ही हुई मौत   |   नैनीताल : राज्य मंत्री तरुण बंसल पहुंचे नैनीताल ज़ोरदार स्वागत के बाद बंसल ने किया कार्यभार ग्रहण   |   नैनीताल : जानलेवा बीमारी ब्रेस्ट कैंसर से महिलाओं को जागरूक करने के लिए 8 मार्च अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पिंक पतंगों पिंक ड्रेसेज़ के साथ निकलेगी महिला बाइक रैली   |   नैनीताल:हर घर की पहचान बेटियों के नाम अभियान के तहत सभासद और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने हर घर के बेटी को नेम प्लेट्स के साथ दिया सम्मान   |   हरिद्वार : जूना अग्नि और किन्नर अखाड़े ने करी अपनी धर्म ध्वजा स्थापित आज भव्य रुप से नगर में करेंगे भ्रमण   |   ओफ्फो!अपनी बेटी के प्रेम संबंधों से नाराज़ पिता बेटी का कटा हुआ सिर लेकर पहुंचा थाना और बोला मैंने कुंडी बन्द की और काट दिया बेटी का सिर   |  




प्रदेश को सबसे ख़राब मुख्यमंत्री का तमगा हांसिल होने से उत्तराखंड के सियासी गलियारों में छिड़ी जंग

avatar

Reported by Awaaz Desk

On 16 Jan 2021
प्रदेश को सबसे ख़राब मुख्यमंत्री का तमगा हांसिल होने से उत्तराखंड के सियासी गलियारों में छिड़ी जंग

पिछले कुछ घंटों से उत्तराखंड का सियासी माहौल एक बार फिर तेजी से गर्म हो रहा हैं। उत्तराखंड के सोशल मीडिया यूज़र और विपक्षी पार्टियों से जुड़े लोगों ने सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर तंज कसना शुरू कर दिया है। 


दरअसल हुआ यूं कि देश के एक निजी चैनल ने देश के 31 मुख्यमंत्रियों में से सबसे अच्छे और सबसे खराब प्रदर्शन वाले मुख्यमंत्री कौन हैं? इस सवाल को लेकर देश का मूड जानने की कोशिश की। चैनल के सर्वे में सबसे अच्छे 3 मुख्यमंत्रियों में बीजेपी का कोई भी मुख्यमंत्री शामिल ना होने के साथ उत्तराखंड प्रदेश के बीजेपी सरकार के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सबसे खराब मुख्यमंत्री की लिस्ट में सर्वे के अनुसार पहले पायदान पर दर्शाए गए।




फिर क्या था इस खबर के प्रकाशित होने के बाद प्रदेश के सोशल मीडिया के माध्यम में उत्तराखंड में  सियासी जंग छिड़ गयी। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को लेकर सोशल मीडिया पर राजनीतिक पार्टियों से जुड़े लोग और आम जनमानस ने जमकर तंज कसाना शुरू कर दिया। जिससे उत्तराखंड प्रदेश में सियासी घमासान मच गया, विपक्षी पार्टियां मुख्यमंत्री को लेकर निजी चैनल के सर्वे का उदाहरण देते हुए उनकी कार्यशैली पर जमकर सवालिया निशान लगाते हुए उत्तराखंड की भाजपा सरकार को जमकर घेर रहे है। विपक्षी पार्टी से जुड़े लोग इसे उत्तराखंड का शर्मनाक अपमान बताते हुए मुख्यमंत्री रावत को जल्द सीट जोड़ने की नसीहत देते दिख रहे है। उत्तराखंड की विधानसभा सियासत में हर विधानसभा में चुनाव लड़ने का ऐलान करने वाली आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर ने मुख्यमंत्री रावत पर तंज कस्ते हुए बीते चार साल में सरकार द्वारा कोई भी जनहित के कार्य ना होने के आरोप लगाए। कांग्रेस पार्टी से जुड़े लोग सोशल मीडिया पर निजी चैनल के सर्वे की तस्वीर साझा करते हुए पूछता है उत्तराखंड के स्लोगन से मुख्यमंत्री रावत पर तंज कस्ते हुए पूछ रहा है आपने उत्तराखंड प्रदेश के लोगों का अपमान क्यों करवाया। 


फ़िलहाल, प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव की बिसात धीरे-धीरे बिछना शुरू ही हुआ था कि एक निजी चैनल के सर्वे ने उत्तराखंड की विपक्षी पार्टियों के हाथ में गरम घी देने का काम किया है। विपक्ष भी अब अपने हाथ आए गरम घी के इस मुद्दे को उत्तराखंड की सियासी आग में डालकर सत्ताधारी पक्ष को जमकर  जलाने का काम कर रहे है।





0 0

Leave a Comment

Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 3 Mar 2021

चालान की कार्यवाही से भी नही है सुअर पालने वालों को कोई भी डर
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 3 Mar 2021

पहाड़ की रानी मंसूरी में नेपाल मूल के एक हैवान ने बनाया मासूम बच्ची को हैवानियत का शिकार
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 3 Mar 2021

मुर्गे को किया जायेगा कोर्ट में पेश, जज के आदेश पर होगी आगे की कार्यवाही
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 2 Mar 2021

आवाज़ उत्तराखण्ड की खबर का पुलिस कार्यवाही ने लगाई अपनी मोहर
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 2 Mar 2021

सुअर पालने के नाम पर बीमारी फैलाने वालो को नही है प्रशासन का डर
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 2 Mar 2021

मामले मे कानूनी डर दिखाकर पुलिस की मदद से नेता करते है फरियादियों से मोटी रकम की वसूली
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 1 Mar 2021

महापंचायत में किसान वक्ताओं ने जमकर किये केन्द्र सरकार पर जुबानी हमले
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 28 Feb 2021

सुअर पालन के कारोबार के नाम पर बिमारी फैलाने के कारोबार से प्रशासन है अन्जान