शहर के प्राचीनतम रामलीला मंचन पर कोरोना की मार

avatar

Reported by Tapas Vishwas

On 18 Oct 2020
शहर के प्राचीनतम रामलीला मंचन पर कोरोना की मार

ऊधम सिंह नगर के महानगर रुद्रपुर के नगर की ऐतिहासिक व प्राचीनतम बस अड्डे वाली रामलीला में इस बार करोना काल के कारण केवल भगवान गणेश  एवं मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री रामचंद्र जी की आरती एवं तत्पश्चात प्रभु श्री राम जी के भजनों का गुणगान ही हुआ। 


विगत रात्रि प्रथम नवरात्र के अवसर पर श्री रामलीला मंच पर जुटे रामलीला कमेटी व राम नाटक क्लब के समस्त पदाधिकारी व सदस्यों ने सर्वप्रथम भगवान गणेश की वंदना की और तत्पश्चात प्रभु श्री रामचंद्र जी की आरती की। इसके बाद अनेकों कलाकारों ने सुमधुर भजन कीर्तन कर प्रभु श्री रामचंद्र जी की महिमा का वर्णन किया।


रामलीला कमेटी के महासचिव विजय जग्गा ने बताया कि इस बार करोना कॉल के कारण प्रभु श्री राम जी की लीला का मंचन नहीं हो पा रहा लेकिन प्रथम नवरात्रों से लेकर विजयदशमी तक प्रत्येक दिन रामलीला मंच पर पूजा अर्चना का कार्यक्रम संपादित होगा। विगत 4 दशकों से अधिक समय से रामलीला का मंचन लगातार हो रहा था लेकिन इस बार क्या मंचन ना होने से समस्त क्षेत्रीय जनता एवं श्री रामलीला कमेटी श्री रामलीला मंचन करने वाले समस्त कलाकारों में भी कुछ निराशा अवश्य है लेकिन वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए इस बार रामलीला मंचन ना किए जाने का निर्णय रामलीला कमेटी द्वारा लिया गया था।


इस दौरान श्री रामलीला कमेटी के महामंत्री विजय जग्गा ,विजय अरोरा, बॉबी अरोरा,व श्री राम नाटक क्लब के हरीश सुखीजा,मनोज मुंजाल,रामकृष्ण कन्नौजिया,आशु  ग्रोवर,विशाल भुड्डी,गौरव तनेजा,गौरव बेहड़,सचिन मुंजाल,नरेश छाबड़ा,सुशील गावा, गौरव गान्धी,सचिन आनंद, गोगी,अजय चड्डा, नीतिश धीर,रोहित नागपाल,गौरव जग्गा,गगन दुनेजा,विशु अरोरा,अमित कुमार,विशाल अनेजा,कपीश सुखीजा,कुंदन,पुरु बेहड़,आदि कलाकार थे कार्यक्रम संचालन सुशील गाबा द्वारा किया गया।




0 0