उत्तराखंड कोरोना ब्रेकिंग- प्रदेश में 95.35 प्रतिशत हुआ रिकवरी रेट, 8 लोगों की हुई मौत, 171 लोग आए कोरोना पॉजिटिव, कुल आंकड़ा पहुँचा 338978   |   नैनीताल : कोरोना से साथी अधिवक्ता के निधन पर जिला बार ने शोक सभा कर दी श्रद्धांजलि   |   नैनीताल : खुद को स्वयं से जोड़ना सिखाता है योग कुविवि ने आयोजित किया योग पर वेबिनार   |   नैनीताल : 24 जून को पटवाडांगर में फ़िल्मसिटी के लिए चयनित भूमि का औद्योगिक विकास मंत्री गणेश जोशी करेंगे निरीक्षण   |   उत्तराखंड : आयुर्वेदिक डॉक्टरों को राज्य सरकार की बड़ी सौगात अब आयुर्वेदिक डॉक्टर भी लिख सकेंगे एलोपैथिक दवाइयां आईएमए को रास नही आयी ये सौगात तो दे डाली कोर्ट जाने की चेतावनी   |   बंग समाज व बंगाली युवा छात्र संगठन प्रतिनिधिमंडल ने की सीएम के साथ मुलाकात   |   रुद्रपुर : पोल शिफ्टिग में नियमों की अनदेखी करने पर भड़के लोग   |   रुद्रपुर : ट्रांजिट कैंप थाने में पैरोल पर छूटे अपराधियों की पुलिस ने करवाई परेड   |   ऊधम सिंह नगर में बदमाशों ने तमंचे के बल पर लूटी कार पीड़ित को सड़क किनारे फेंक हुए फरार   |   भारत : कोरोना को लेकर राहुल गांधी ने जारी किया श्वेतपत्र सरकार को दिए कई सुझाव साथ ही कोरोना की थर्ड वेव को लेकर चेताया भी   |   रुद्रपुर : अखिल भारतीय बंगाली एकता मंच के अध्यक्ष को मिली जान से मारने की धमकी   |  




दुखद:अस्पताल में इलाज की जगह मिली मौत और मृत बेटे को ले जाने के लिए एम्बुलेंस भी न मिल पाई तो ई रिक्शा पर लाद ले गयी बुजुर्ग माँ

avatar

Reported by Awaaz Desk

On 20 Apr 2021
दुखद:अस्पताल में इलाज की जगह मिली मौत और मृत बेटे को ले जाने के लिए  एम्बुलेंस भी न मिल पाई तो ई रिक्शा पर लाद ले गयी बुजुर्ग माँ

देश इस वक़्त कोरोना महामारी के दौर से गुजर रहा है जहाँ एक तरफ देश में कोरोना संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है वही राज्य सरकारें मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने के नाम पर केवल खानापूर्ति करती नजर आ रही है कोरोना महामारी के दौरान आपातकाल जैसे हालात में उत्तर प्रदेश के अस्पतालों का क्या हाल है इस तस्वीर को देखकर समझ सकते है ।

  



खस्ताहाल स्वास्थ्य सेवाओं की गवाही देती यह तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है ।


कोरोना महामारी के इस संकट में अन्य बीमारियों से जूझ रहे लोगों को भी संकट से दो-चार होना पड़ रहा है। वाराणसी से एक ऐसा ही हृदयविदारक मामला सामने आया है जो किसी को भी झकझोर कर रख दे। वाराणसी के बीएचयू के सुंदरलाल अस्पताल में एक बुजर्ग मां अपने बेटे की किडनी के इलाज के लिए पहुंची थी।  मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो महिला के बेटे को समय से इलाज नहीं मिल पाया जिसके चलते उसकी मौत हो गई। बुजुर्ग महिला के बेटे को किडनी से संबंधित परेशानी थी ।


बेटे की मौत के बाद मां ने एम्बुलेंस में अपने बेटे के शव को अस्पताल से ले जाने की कोशिश की पर उसको एम्बुलेंस नहीं मिली।  जिसके बाद वो शव को एक ई-रिक्शे में लादकर ले जाने को मजबूर हो गई।

Leave a Comment

Sunil Mehta

Reported by Sunil Mehta

On 20 Jun 2021

अन्तरिम जमानत या आपात पेरोल पर रिहा करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों से किया अनुरोध
Awaaz Desk

Reported by Awaaz Desk

On 14 Jun 2021

माँ से अनबन होने पर दोस्त के साथ हरिद्वार पहुंचा था सूरज दिल्ली पुलिस के जवान ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका