नैनीताल:जैव प्रौद्योगिकी संस्थान पटवाडांगर में स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित हुए विशेष कार्यक्रम

देशभर में स्वतंत्रता दिवस की धूम मची हुई है। हर जगह आज़ादी का 75वा महोत्सव मनाया जा रहा है। इसी कड़ी में उत्तराखण्ड जैव प्रौद्योगिकी परिषद् जैव प्रौद्योगिकी संस्थान पटवाडांगर नैनीताल में भी आज स्वतंत्रता दिवस पर विशेष कार्यक्रम का हर्षोउल्लास एवं समारोहपूर्वक आयोजन किया गया । राष्ट्रीय झंडा रोहण के पश्चात् पटवाडांगर संस्थान के प्रभारी डा ० सुमित पुरोहित के स्वतंत्रता आंदोलन पर प्रकाश डाला । सुमित पुरोहित ने भारत की आजादी के आंदोलन में तत्कालीन माननीय स्वतंत्रता सेनानियों , राजनीतिज्ञों , नेतागण , सैनिकों एवं भारत की जनता के योगदान एवं बलिदान पर अपने विचार व्यक्त किये । डा ० सुमित पुरोहित ने बताया कि सन् 1947 में आजादी के बाद भारत ने विषम परिस्थितियों के बावजूद कृषि , प्रौद्योगिकी , कम्प्यूटर , रक्षा एवं सूचना क्रान्ति के क्षेत्र में सराहनीय एवं अभूतपूर्व तरक्की की है व आने वाले अल्प समय में भारत की अर्थव्यवस्था विश्व में अग्रणी रहेगी ।

इसके उपरांत डा ० सुमित पुरोहित ने संस्थान के कर्मचारियों को संबोधन में शुभकामनाएं दी एवं संस्थान के विकास एवं शोध कार्यों के बारें में चर्चा की व भविष्य में होने वाले शोध कार्यों की रूपरेखा से कर्मचारियों को अवगत कराया । कार्यक्रम के पश्चात् पटवाडांगर संस्थान के कर्मचारियों को मिष्ठान वितरित किये गये । इस अवसर पर संस्थान पर संस्थान के कर्मचारी , अजय सिंह , हिम्मत सिंह , किशन सिंह , सिंह , हेमन्त भोज , राहुल भारद्वाज , नवीन चन्द्र त्रिभुवन इत्यादि कर्मचारी मौजूद थे ।